Astrology: कुवारी लड़किया और विधवा महिलाएं क्यों नहीं लगाती सिंदूर, इसके पीछे क्या कारण है

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join

Astrology: सनातन धर्म में विवाहित महिलाएं सिंदूर लगाती हैं। सिंदूर लगाने की परंपरा प्राचीन है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुवारी लड़किया या विधवा महिलाएं सिंदूर क्यों नहीं लगाती हैं? तो आइए जानते हैं इसके पीछे का वैज्ञानिक कारण…

हिंदू धर्म में सिंदूर लगाने का बहुत महत्व माना जाता है। इस रस्म के बाद दुल्हन हर दिन अपने पति के जीवित रहने तक अपने सिर पर सिंदूर लगाती है। सिंदूर को सोलह गहनों में से एक माना जाता है। सनातन धर्म में विवाहित महिलाएं सिंदूर लगाती हैं। सिंदूर लगाने की परंपरा प्राचीन है। रामायण में भी इस बात का जिक्र है कि मां सीता और पति राम के लिए सिंदूर का प्रयोग किया जाता था। विवाहित स्त्रियां यदि सिर में सिंदूर लगाती हैं तो उनका स्वास्थ्य अच्छा रहता है। इसी तरह सिंदूर लगाने के कई वैज्ञानिक फायदे होते हैं।

छिपा है वैज्ञानिक कारण

वैज्ञानिक दृष्टिकोण के अनुसार सिर का वह भाग जहां सिंदूर लगाया जाता है वह अत्यंत कोमल होता है। इस स्थान को ब्रह्मरंध्र कहा जाता है। सिंदूर में पारा होता है, जो औषधि की तरह काम करता है। साथ ही यह महिलाओं में रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी मदद करता है। जिससे महिलाएं तनाव मुक्त भी रहती हैं और अनिद्रा की समस्या भी नहीं होती है।

इस वजह से कुंवारी लड़कियां नहीं लगाती सिंदूर

ये बातें एक सवाल जरूर खड़ा करती हैं कि सिंदूर लगाने के इन सभी फायदों के बाद विधवा और कुंवारी लड़कियां सिंदूर क्यों नहीं लगाती हैं। आपको बता दें कि इसके पीछे एक वैज्ञानिक कारण है। सिर में सिंदूर भरने से कामोत्तेजना बढ़ती है, जो विधवाओं और कुंवारी लड़कियों के लिए उपयुक्त नहीं है। इसीलिए विधवाओं और अविवाहित लड़कियों को मांग में सिंदूर भरना वर्जित है।

Leave a Comment

Vivo X Fold 3 Pro Check out price, specs and other details इस शानदार कार ने लॉन्च होते ही मार्किट में मचाया तहलका, बनाया रिकॉर्ड Tata Nano का नया अवतार इकेक्ट्रिक वर्सन में मार्केट में देगा दस्तख़ सरसो के रेट में लगातार मजबूती जारी 6000 का आंकड़ा होने जा रहा पार Post Office की धांसू स्कीम एक बार के निवेश में पैसे होंगे डबल